स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव का लेख: भाजपा को देश के लिए खतरा मानना और चुनाव में नोटा चुनने में कोई विरोधाभास नहीं

अपने कॉलम में अपने संगठन और उसकी राजनीति की चर्चा न करूं- एक नियम मैंने ये बना रखा है. बहरहाल, पिछले हफ्ते स्वराज इंडिया की दिल्ली इकाई ने इस बार के लोकसभा के चुनाव में ‘नोटा’ का बटन दबाने का आह्वान किया और उसके इस फैसले ने बहुत से लोगों का ध्यान खींचा- ‘नोटा’ यानि…

SWARAJ INDIA NATIONAL PRESIDENT YOGENDRA YADAV’S ARTICLE: No contradiction between seeing BJP as threat to India & voting NOTA this election

As a rule, I do not use this column to discuss my organisation and its politics. Last week, however, a decision by the Delhi unit of Swaraj India concerning the NOTA button this Lok Sabha election invited a lot of attention and raised a question of wider significance about the use of the None of the Above option. Frankly,…

दिल्ली में लोक सभा चुनाव में स्वराज इंडिया की भूमिका के बारे में स्वराज इंडिया के अध्यक्ष का बयान

दिल्ली में लोक सभा चुनाव में स्वराज इंडिया की भूमिका के बारे में स्वराज इंडिया के अध्यक्ष का बयान आगामी लोकसभा चुनाव में नोटा का उपयोग करने के बारे में स्वराज इंडिया दिल्ली इकाई के बयान पर कई सवाल और आलोचनाएँ सामने आयी हैं। सवाल पूछने वालों में हमारे कई शुभचिंतक भी शामिल हैं। हम…

Statement from Yogendra Yadav, President, Swaraj India, concerning our stand in Lok Sabha election in Delhi

Statement from Yogendra Yadav, President, Swaraj India, concerning our stand in Lok Sabha election in Delhi The stand of Swaraj India’s Delhi Unit concerning the use of NOTA in the coming Lok Sabha elections has led to many questions and criticism, including from our well-wishers. Swaraj India values and welcomes this feedback. We are sorry…

आमजन के मुद्दों पर बात नहीं कर रहे दिल्ली की तीनों पार्टियों को नकारने की अपील

स्वराज इंडिया प्रेस नोट : 20 अप्रैल 2019 आमजन के मुद्दों पर बात नहीं कर रहे दिल्ली की तीनों पार्टियों को नकारने की अपील लोकसभा चुनाव में विकल्प की कमी के कारण NOTA का बटन दबाएं स्वराज इंडिया ने दिल्ली की वोटरों से आमजन के मुद्दों पर बात न कर रहे दिल्ली की तीनों पार्टियों…

स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव का लेख: घोषणापत्रों के वादे और इरादे

पिछले हफ्ते भाजपा और कांग्रेस के मेनिफेस्टो जारी हुए. अगर मेनिफेस्टो से चुनाव जीते जाते तो कांग्रेस यह चुनाव जीत जाती. अगर इस देश के वोटर पार्टियों के घोषणापत्र को पढ़कर नंबर देते, तो भाजपा जरूर परीक्षा में फेल हो जाती. भाजपा का ‘संकल्प पत्र’ पढ़कर समझ नहीं आता कि इस दस्तावेज में कहा क्या…

Swaraj India to not field candidates for Lok Sabha elections

प्रेस नोट स्वराज इंडिया   10 अप्रैल 2019   स्वराज इंडिया लोकसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी   जनता से जुड़े असल मुद्दों को चुनावी विमर्श के केंद्र में लाने पर पार्टी अपना फोकस बनाए रखेगी   पार्टी ने वैकल्पिक राजनीति के लिए आशा जगाने वाले उम्मीदवारों के समर्थन की घोषणा की अपने सिद्धान्त, “पार्टी…

Swaraj India exposes modi govt’s murky role in SSC.

Press Release 9th April, 2019 Nationwide youth movement the Yuva Halla Bol today made shocking disclosures about the country’s largest recruitment institution SSC puncturing the Modi governments all claims on employment and good governance. Yuva Halla Bol leader and Chief Spokesperson of Swaraj India, Anupam, laid serious allegations against Modi government that is already under…

एसएससी चेयरमैन का एक्सटेंशन ही नहीं, 2015 में हुई नियुक्ति भी सवालों के घेरे में

युवा हल्लाबोल प्रेस नोट: 9 अप्रैल 2019 – एसएससी चेयरमैन का एक्सटेंशन ही नहीं, 2015 में हुई नियुक्ति भी सवालों के घेरे में – नियुक्ति के वक़्त अशीम खुराना पद के लिए आवश्यक 59 वर्ष की अधिकतम आयु सीमा भी पार कर चुके थे – चयन समिति ने कुल 35 आवेदनों में से पहले 4…